1 अप्रैल 2010

आज आप ये मेनू ट्राई कर लो

आजा आजा हम चावल की रोटियां बना ले
आज दाल बनेगी गेंहू से और सब्जी से चावल बना ले ...
रोटी हम उड़द दाल से बना लें ...
छप्पनभोग में राजा रानी कुछ यूँ खायेंगे जी
हर मिठाई का एक टुकड़ा ले लो खीर से रोसोगुल्ला तक ...
कड़ी पत्तेसे राय जीरे का छोंका मर लो ...
उस पर डाल दो कुतरे हुए महीन प्याज,लहसून और अदरख भी आज ....
अब उसपर सेव और ढोकले का कुतरनसे गार्निश कर लो ...
एक बड़ी पिचकारी लेकर उसमे
लाल चटनी ,हरी चटनी और इमली की चटनी डाल कर
भिगो दो राज को भोग समज कर सजनी ...
अब ये सारी सामग्री मिक्स़रमें डाल कर महीन पीस लो ...
उसे रोटी पर लगाकर
तीनसौ पचास डिग्री पर ओवेन में साढ़े तीन घंटे तक पका लो ...
अब सामग्री को डीप फ्रिज में रखो
और तुम सबके साथ शाम को खा लो ....

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

विशिष्ट पोस्ट

मैं यशोमी हूँ बस यशोमी ...!!!!!

आज एक ऐसी कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूँ जो लिखना मेरे लिए अपने आपको ही चेलेंज बन गया था । चाह कर के भी मैं एक रोमांटिक कहानी लिख नहीं पाय...