18 सितंबर 2013

अजीब दुश्मनी

ये वक्त भी अजीब दुश्मनी निभाता है ,
तुम्हारे साथ होने पर भागता रहता है ,
तुमसे दूर होते है यूँ ही तनहा ,
तो एक पल को एक घंटे सा लम्बा कर जाता है  …
तेरी हर बेवफाई के चर्चे मशहूर है इस जहाँमें ,
लगता है तेरा ही दूसरा नाम किस्मत रखा गया है ………. 

1 टिप्पणी:

विशिष्ट पोस्ट

मैं यशोमी हूँ बस यशोमी ...!!!!!

आज एक ऐसी कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूँ जो लिखना मेरे लिए अपने आपको ही चेलेंज बन गया था । चाह कर के भी मैं एक रोमांटिक कहानी लिख नहीं पाय...