25 जनवरी 2012

हाइकु

घरौंदे बसे 
यादोंके तन्हाईमें ,
प्यार वहां है !!!
=============
बिखर गया 
एक पल वक्तकी
लड़ीसे यूँही !!
=============
तेरी जुत्सजू
शिद्दतसे करी थी 
दिलने मेरे ...
============
दोराहे पर 
मंजिल नहीं मिलती 
हमसफर !!!!!

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

विशिष्ट पोस्ट

मैं यशोमी हूँ बस यशोमी ...!!!!!

आज एक ऐसी कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूँ जो लिखना मेरे लिए अपने आपको ही चेलेंज बन गया था । चाह कर के भी मैं एक रोमांटिक कहानी लिख नहीं पाय...