19 जुलाई 2013

जुत्सजूने


नींद आती है पलकों पर चलकर ,

तेरे ना आने की खबर देकर नींद उड़ाकर जाती है .....

====================================

तेरे पाने की जुत्सजूने मेरे जीवनकी साँसे कायम रखी ,

तेरा साथ मिला जब लगा शायद जुत्सजू ही रहती तो अच्छा था ...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

विशिष्ट पोस्ट

मैं यशोमी हूँ बस यशोमी ...!!!!!

आज एक ऐसी कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूँ जो लिखना मेरे लिए अपने आपको ही चेलेंज बन गया था । चाह कर के भी मैं एक रोमांटिक कहानी लिख नहीं पाय...