7 जनवरी 2010

नो कोमेंट ....
















2 टिप्‍पणियां:

  1. लेबल: हँसी खुशी के पल
    वाह,...लेबल की तरह ही हंसा ख़ुशी के पल थे इस पोस्ट को देखना।

    उत्तर देंहटाएं

विशिष्ट पोस्ट

मैं यशोमी हूँ बस यशोमी ...!!!!!

आज एक ऐसी कहानी प्रस्तुत करने जा रही हूँ जो लिखना मेरे लिए अपने आपको ही चेलेंज बन गया था । चाह कर के भी मैं एक रोमांटिक कहानी लिख नहीं पाय...